Former President Pranab Mukherjee passes away, His life in short View

Former President Pranab Mukherjee passes away, His life in short View

Former President Pranab Mukherjee passes away, His life in short View you can read in a short time.

प्रणव कुमार मुखर्जी  जन्म: 11 दिसंबर 1935, मृत्यु 31 अगस्त 2020 पश्चिम बंगाल भारत के तेरहवें राष्ट्रपति का जन्म हुआ।

26 जनवरी 2019 को प्रणब मुखर्जी को भारत रत्न से सम्मानित किया गया है!

 वे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन ने उन्हें अपना उम्मीदवार घोषित किया।

 दूर से उन्होंने अपने प्रतिसप्रधी पी.ए. संगमा को। उन्होंने 25 जुलाई 2012 को भारत के तेरहवें राष्ट्रपति के रूप में पद और गोपनियत की शपथ ली। प्रणब मुखर्जी ने पुस्तक ‘द कोलिएशन ईयर्स: 1996-2012’ लिखी है

11 दिसंबर 1935 को पश्चिम बंगाल के बीरभूमि में जन्मे प्रणव दा का मुखर्जी उनके पिता कामदा किकर मुखर्जी स्वतंत्र सेनानी थे 1952 -64 तक पश्चिम बंगाल विधान परिषद के सदस्य रहे हैं इसी कारण से प्रणव दा की भी राजकारण की शिषा  ही है। मिला होगा प्रणव ​​दा राजनीति शास्त्र और इतिहास में डिग्री ली थी और तो और कोलकाता विश्वविद्यालय से बी कानून की डिग्री लि अपने गांव वीरभूमि में अध्यापक की नौकरी की प्रणव दा साठ के दशक में बंगला कॉन्ग्रेस की 1969 मैं। पहली बार राज्यसभा पे सदस्य बनकर दिल्ली पहुंचे 1972 में जब बंग कॉन्ग्रेस टूट कर कांग्रेस की साथजा मिली तब प्रणव दा इंदिरा गांधी के भरोसेमंद लोगों में से एक हो गए उसके अगले ही साल 1973 में औद्योगिक विकास उपमंत्री बने तब से लेकर आज तक प्राणव दा के मंत्री कौन पद होने से उनके विदेश मंत्रालय और वित्त मंत्रालय जैसे पोर्टफोलियो संभाल चुके हैं राष्ट्रपति चुने गए तब तक  सरकार में वित्त मंत्री ही थे पार्टी के संकटमोचक की उनकी प्रतिमा रही है कई बार पार्टी को डूबते हुए ही सफल हुई है प्रणव दा इसी की वजह से ही सोनिया गांधी की राष्ट्रपति चुनाव में पहली पसंद रहे प्रणव दा  थी इंदिरा गांधी को प्रणोव दा  पर बहुत भरोसा था वह हमेशा कहती थी प्रणव दा  के मुंह से बस पाइप का धुवाआ ही आ सअकता है कांग्रेस का कोई क्या सीक्रेट कोई नहीं निकाल सकता है

For UPSC Prepration

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *